Breaking News
Home / देश / एक बार चार्ज करके 220 किलोमीटर से ज्यादा चलने वाली कारों को लेकर किया गया ये बड़ा फैसला, ये है डिटेल्स

एक बार चार्ज करके 220 किलोमीटर से ज्यादा चलने वाली कारों को लेकर किया गया ये बड़ा फैसला, ये है डिटेल्स

भारत में अब इलेक्ट्रिक वाहनों का चलन बढ़ रहा है। वहीं सरकार भी इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम करती नजर आ रही है.इसका मतलब है कि सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद के लिए वित्तीय सहायता के अलावा सब्सिडी भी देना शुरू कर दिया है। आपको बता दें कि वीओ चांदबरनार पोर्ट ट्रस्ट ने अब सरकार और प्रशासन को और गति देने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है और पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए इलेक्ट्रिक कारों की शुरुआत की है.

समझें कि वीओसी पोर्ट वर्तमान में ई-कार पेश करने वाला पहला प्रमुख बंदरगाह है। वीओसी ने वास्तव में पोर्टे में तीन इलेक्ट्रिक कारों के पहले समूह को हरी झंडी दिखाई। जबकि ये सभी टाटा एक्सप्रेस इलेक्ट्रिक कारें थीं जिन्हें कुल 6 साल की अवधि के लिए लीज पर लिया गया है। एक रिपोर्ट के अनुसार, वाहनों का निर्माण एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड द्वारा किया गया है, जो बिजली मंत्रालय के तहत संचालित होता है।

यह भी कहा जा रहा है कि ऐसी तीन और इलेक्ट्रिक कारों को जल्द ही पोर्ट पर उपलब्ध कराया जाएगा। ईईएसएल बंदरगाह पर चार्जिंग प्वाइंट, बीमा, पंजीकरण, ड्राइवरों की तैनाती और वाहनों के रखरखाव के लिए सुविधाएं भी प्रदान करेगा। आपको बता दें कि पोर्ट पर सप्लाई की जाने वाली इलेक्ट्रिक कार में 21.50 kWh की लिथियम-आयन बैटरी का इस्तेमाल किया गया है,

जिसे आप एक बार चार्ज करने पर 231 किमी तक का सफर तय कर सकते हैं। बैटरी पैक एक एसी चार्जर सेट-अप द्वारा संचालित होगा जो एक साथ तीन कारों को चार्ज कर सकता है और प्रति कार 3.3kW की आउटपुट पावर रेटिंग होगी। जबकि चार्जर सेटअप सिर्फ 8 घंटे में बैटरी को 0 से 100% तक चार्ज कर पाएगा। वीओ चिदंबरम बंदरगाह का उद्देश्य उत्सर्जन को कम करना है।

डि‍सक्‍लेमर: यह न्‍यूज वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Ek Bharat अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है.

About Ek Bharat

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!